परिवर्तन

 जी हां । मै परिवर्तन लाना चाहता हूं। परिवर्तन की शुरुवात मुझसे होगी। आज सुबह जब जागा तो देखा कि मुझे सत्य साई बाबा आशिर्वाद दे रहे है। कल रात सोने के पहले मै जब टी. वी. पर उनके देहावसान का समाचार देख रहा था तो मुझे पता चला कि वे लगभग ४०,००० करोड रुपयों की सम्पत्ति अपने पीछे छोड गये है। कैसे कमाया उन्होने इतना धन? कैसे मिली उनको इतनी शोहरत? कैसे प्रभावित किया उन्होने इतने करोडों इन्सानो को?
वे जादुगर थे। पी. सी. सरकार से उन्होने जादू की कला सीखी थी। भस्म निकालना इत्यादि कोई दैवी चमत्कार नही थे, वह तो उनके हस्तचापल्य का कमाल था। लैकिन वो सिर्फ जादू कर, लोगो को मनोरंजन कर पैसा कमाना नही चाहते थे। उनका संघर्ष था अज्ञान से। वे निरक्षरता का निर्मुलन करना चाहते थै। इसलिये स्कूल्स, कालेजेस और विश्वविद्यालयों को खोलने की आवश्यकता थी। इसके लिये जरुरी था धन। उनके भक्तों ने उन्हे मालामाल कर दिया क्योंकि उनका सत्य साई बाबा पर विश्वास था। 
मै भी सत्य साई बाबा की तरह इस दुनिया मे परिवर्तन लाने का प्रयास करना चाहता हूं। इसीलिये मैने आज अपने आपको ideas4all पर रजिस्टर किया है। आइये आपभी मेरी तरह एक कल्पना से प्रारंभ करे और अपना जीवन उसे साकार करने मे गुजारे। ईश्वर और सत्य साई बाबा सदैव आपके साथ रहे।

Comentarios

Para mantener la alta calidad de los contenidos, debes acceder para dejar un comentario
Las cookies nos permiten ofrecerte nuestros servicios y mejorar tu experiencia como usuario. Más información